Sri Sri Ravi Shankar has founded courses that provide techniques and tools to live a deeper, more joyous life. He has established nonprofit organizations that recognize a common human identity above the boundaries of race, nationality and religion. His goal is to uplift people around the globe, to reduce stress, and to develop leaders so that human values can flourish in people and communities.


आयरलैंड ने किया श्री श्री के साथ ध्यान | ‘Ireland Mediates’ with Sri Sri

संस्कृति और समारोह


आयरलैंड ने किया श्री श्री के साथ ध्यान | ‘Ireland Mediates’ with Sri Sri

यह पृष्ठ इन भाषाओं में उपलब्ध है: English मराठी

17 नवंबर 2019
डबलिन, आयरलैंड

डबलिन में आयोजित जन समारोह ‘आयरलैंड मेडिटेट्स’ में गुरुदेव श्री श्री रविशंकर जी के साथ विश्वभर से लगभग एक लाख लोगों ने ऑनलाइन जुड़कर ध्यान किया। आयोजन में उन्होंने ध्यान पर व्याख्यान भी दिया और प्रश्नोत्तर के समय लोगों से बातचीत भी की।

Cultural performance at Ireland meditates with Sri Sri Ravi Shankar nov17
Ireland meditates - Sri Sri Ravi Shankar talk on meditation nov17

“ध्यान घर है और सजगता मार्ग है। मार्ग पर ही न रुकें। सजगता आजकल की नई धुन है। सतर्क होना, सचेतन होना अच्छा है। पर ये ध्यान की सतह मात्र है।”

गुरुदेव ने व्याख्यान के दौरान कहा, “ध्यान मन की सफाई जैसा है। जैसे हमें दांत की सफाई के लिए ब्रश करना सिखाया गया था। उसी तरह ध्यान एक विधि है जो हमें मन से नकारात्मक भावनाओं को निकालने में सहयोगी है।“ उन्होंने आगे बताया” ध्यान के द्वारा सम्पूर्ण मानवता से सम्बन्ध स्थापित हो जाता है। आप सभी लोगों के साथ पूरी तरह सहजता का अनुभव करते हैं।“

क्या ध्यान और सजगता एक ही है, यह पूछने पर उन्होंने बताया “ध्यान घर है और सजगता मार्ग है। मार्ग पर ही न रुकें। सजगता आजकल की नई धुन है। सतर्क होना, सचेतन होना अच्छा है। पर ये ध्यान की सतह मात्र है।”

आतंकवादियों से क्या कहना चाहेंगे, यह पूछने पर गुरुदेव ने कहा, “ मैं उनकी ओर मुस्कराता हूँ। मैं उनकी स्थिति समझता हूँ। उन्हें लगता है कि उन्हें कोई समझता नहीं है। प्रेम लोगों में बदलाव लाता है। हम सभी प्रेम से ही निर्मित हैं। विकृत प्रेम ही क्रोध और घृणा बन जाता हैं। इसे बस थोड़ी सफाई चाहिए। हिंसा से कोई हल नहीं निकलता है। यह केवल विनाश करती है। जब आप उनमें यह जागरूकता लाते हैं, तो वे इससे बाहर आ जाते हैं।”


भाषांतरित ट्वीट –

आयरलैंड की यह मेरी पहली यात्रा है। डबलिन के एक खूबसूरत थिएटर में ‘आयरलैंड मेडिटेट्स’ के लिए देश भर के लोग शामिल हुए।