वैश्विक सोच वैश्विक बोल | Think global, talk global

वैश्विककरण के युग में, भारतीय नेताओं को आजकल अंतर्राष्ट्रीय मंच पर बोलने के लिए काफी बुलाया जा रहा है। इससे हमारे राजनेताओं के लिए यह अनिवार्य हो जाता है कि वे विश्‍वव्‍यापी परिप्रेक्ष्य में...

महात्मा गांधी का स्मरण करते हुए | Remembering Mahatma Gandhi

महात्मा गांधी का हमारे परिवार पर और मेरे बचपन पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव था। मेरे दादा ने साबरमती आश्रम में बीस वर्ष रहकर महात्मा गांधी की सेवा की थी। मेरी दादी स्वेच्छा से अपना साढे दस किलो सोना...