योग – जीवन के लिए सर्वोत्तम अनुप्रयोग (ऐप) | Yoga- the best app for life

यह पृष्ठ इन भाषाओं में उपलब्ध है: English मराठी

‘योग’ वेदांत में वर्णित अंतिम सत्य और क्वांटम भौतिकी में उल्लिखित सार्वभौमिक ऊर्जा क्षेत्र को पहचानने का मार्ग है। वेदांत वर्णित उत्कृष्ट और अतिसूक्ष्‍म सत्य, योग के माध्यम से सब तक पहुँच सकने वाला स्थूल बन गया है। यह व्‍यक्ति की आंतरिक यात्रा के लिए सशक्त प्रारंभ के समान है।

 

योग वह चाबी है, जो व्यक्ति के साथ-साथ समस्‍त समुदाय की अथाह प्रसन्नता का द्वार खोल देती है। यह स्‍वार्थ एवं अहंकारी प्रवृत्तियों के माध्यम से आने वाले व्‍यक्तिगत एवं सामूहिक कष्‍टों को दूर करता है।

योग न केवल स्वास्थ्य और भौतिक लाभ लाता है, बल्कि आत्मा को ऊर्घ्‍वगामी बना कर अंतर्प्रज्ञा को भी बढ़ाता है जो कि सभी कार्यों के संचालन के लिए अत्यावश्यक है। यह क्रिया-कलाप में कौशल लाता है, बिना तनाव के चुनौतीपूर्ण स्थितियों का प्रबंधन करने में व्‍यक्ति की मदद करता है।

 

हर बच्चा जन्‍मजात योगी होता है। पूरे संसार में तीन वर्ष तक की आयु के बच्‍चे स्वाभाविक रूप से ही अनेक योगासन एवं योग मुद्राएं बनाते हैं। बच्चे की मन की स्थिति और श्वास की लय योगियों से काफी मिलती-जुलती है। योग हमारे भीतर वही बाल-सुलभ सुंदरता एवं नि:श्‍छलता लाता है।

 

यह सर्वविदित तथ्य है कि योग ने असंख्य लोगों को अनेक बीमारियों से ठीक होने में मदद की है। यह व्यक्ति के व्यक्तित्व में तुरंत ही पूर्ण संतुलन ला सकता है; यह अत्यंत जटिल प्रकार की मनोवृत्तियों एवं प्रवृत्तियों को सुधारता है। वस्तुतः योग ऐसे अनेक प्रकार के समाधान देता है, जिन्हें आज का व्यवहार विज्ञान ढूंढ रहा है।

 

जब लोगों को ध्यान के अनुभव की झलक मिलती है, तो उनका जीवन पूरी तरह से बदल जाता है। हमने इसे जेलों में भी देखा है; जब कैदी प्राणायाम करना आरंभ करते हैं, तो वे बड़ी सरलता से ध्यान में चले जाते हैं और उनके चरित्र में यम और नियम (महर्षि पतंजलि द्वारा उद्धृत सामाजिक और व्यक्तिगत आचरण) परिलक्षित होने लगते हैं। योग आतंकवादियों एवं कैदियों से लेकर भिक्षुओं और कवियों तक के जीवन को अविश्वसनीय तरीके से बदल सकता है। यह हृदय को कोमल बनाता है, बुद्धि को तीक्ष्‍ण करता है और भ्रम को दूर करता है।

 

इस सदी में जब अवसाद इस संसार की सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है, तब योग निस्संदेह एक ऐसा सर्वोत्‍तम ऐप है, जिसे हर व्‍यक्ति को अपने जीवन में डाउनलोड कर लेना चाहिए।

 

विज्ञान, खेल एवं संस्कृति की तरह, योग दर्शन और अनुशासन को विकसित करने के लिए भी सरकारी संरक्षण की आवश्यकता है। धर्मनिरपेक्षता के नाम पर अनेक वर्षों तक नकारे जाने के पश्‍चात, अब हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा योग को महत्‍व दिया जाना बहुत उत्‍साहवर्धक है।

 

जब लोग अपने काम-धंधे के साथ योग अभ्यास भी करते हैं ,तो यह बेहतर सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाने के साथ-साथ स्वयं को ही ऊपर समझने के भाव व दिखावे की बातों को कम करता है। यदि सभी राष्ट्रों के प्रमुख योग के ज्ञान को अपनाना आरंभ कर दें तो,वास्‍तविक विश्‍व शांति अति शीघ्र प्राप्त हो सकती है।

प्रातिक्रिया दे

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>